चीकू के आयुवेर्दिक फायदे

health-benefits-chiku-sapota-in-hindi

चीकू खाने में एक स्वादिष्ट फल है। आलू के रंग की तरह ही होता है चीकू का रंग। प्राचीन वैदिक काल में आयुवेर्दिक औषधियों के रूप चीकू का प्रयोग किया जाता रहा है। बहुत ही कम लोग जानते हैं चीकू फल के ऐसे फायदों के बारे में जिनसे इंसान को कई तरह के लाभ मिल सकते हैं। वैदिक वाटिका आपको बता रही है चीकू खाने के एैसे फायदे जो आपकी सेहत को कई तरह की बीमारियों से बचा सकता है।

चीकू खाने के आयुवेर्दिक वैदिक फायदे
चीकू में आयरन, फास्फोरस और कैल्श्यिम होता है जो हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता है। यदि आप नियमित चीकू का सेवन करते हो तो इससे शरीर की कमजोरी दूर होती है।
आंखों की सेहत के लिए
चीकू में भरपूर मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है जो आंखों की कमजोरी को दूर करता है। बुढ़ापे में होने वाली आंखों की कमजोरी भी नहीं होती है चीकू खाने से।
कैंसर से बचाता है
जैसा की हम आपको बताते हंै कि इसमें कई प्रकार के विटामिन्स होते हैं। जो इंसान
को कैंसर के खतरे से बचाता है। फाइबर और एंटीआॅक्सिडेंट बढ़ते कैंसर के प्रभाव को खत्म कर देते हैं।
दस्त की समस्या
चीकू खाने से दस्त की समस्या खत्म हो जाती है। चीकू में मौजूद एंटी डाइरियल गुण पेचिश और बवासीर की समस्या को दूर
करते हैं।

दिमाग की सेहत के लिए
चीकू खाने से इंसान का दिमाग ठीक रहता है। चीकू दिमाग की नसों को नियंत्रित करता है जिससे दिमाग शांत रहता है। यही नहीं
दिमाग की बीमारियों से होने वाली समस्याएं जैसे अवसाद, चिंता और अनिद्रा आदि से भी चीकू खाने से लाभ मिलता है।

वजन घटाने के लिए
चीकू पाचन तंत्र को ताकत देता है साथ ही यह मोटापे को भी कम करके आपके वजन को भ्ी घटा देता है।

खांसी व जुकाम
यदि आप कफ व खांसी या फिर जुकाम से परेशान हांे तो चीकू का सेवन करें। चीकू पुरानी खांसी, बलगम और कफ की समस्या को पूरी तरह से ठीक कर देता है।

गुर्दे की पथरी की समस्या
जिन लोगों के गुर्दे की समस्या है वे चीकू के बीज को लें और इसे पीसकर खाएं। इससे पेशाब के रास्ते पथरी बाहर निकल जाती है।

दांतों की समस्या
यदि आपके दांतों में कैविटी हो गई हो तो आप चीकू का सेवन करें। लेटेक्स की अच्छी मात्रा चीकू में पाई जाती है।

सुंदर त्वचा के लिए
यदि आप चाहते हैं कि आपकी त्वचा में प्राकृतिक चमक आए और चेहरे की समस्याएं दूर हो तो आप चीकू का सेवन करें। चीकू
खाने से त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनती है।

झुर्रियों के लिए
चीकू में पाए जाने वाले गुण इंसान पर उम्र के फर्क को कम कर देते हंै। यानि की चेहरे की झुर्रियों की समस्या हटने लगती है।

बालों की समस्या के लिए
बालों की हर प्रकार की समस्या चाहे वह रूसी की समस्या हा या बालों की झड़ने की समस्या हो तो वे चीकू के बीजों का पेस्ट अरंडी के तेल के साथ मिलाकर बालों पर लगाएं। यह उपाय रात में करें ताकि सुबह आसानी से आप अपने सिर को साफ पानी से धो सकें।

चीकू के बीजों से बना हुआ तेल बालों पर लगाने से आपके बाल मुलायम, सुंदर और घने हो जाते हैं।

Loading...
डिसक्लेमर : वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।