इन कारणों से होती है इंसान की उम्र कम : विदुर नीति

vidhur-niti-in-karno-se-hoti-hai-insan-ki-umar-kam

महाभारत में हर एक इंसान महान और अद्भुद था। इसी तरह से विदुर भी एक पराक्रमी और उच्च कोटी के ज्ञानी थे। विदुर ने महाभारत का सारा विवरण धृतराष्ट्र को बताया था। विदुर परम ज्ञानी और महान इंसान थे। यमराज ने श्राप की वजह से विदुर के रूप में जन्म लिया था। विदुर ने इंसान की उम्र कम होने के कुछ कारणों के बारे में बताया था। क्या थे ये दोष आपको बताते हैं।

इंसान की उम्र घटाने वाले कारण

घमंडी व अभिमानी होना
जो लोग हमेशा अपने को महान समझते हैं। जिन्हें अपने उपर अभिमान रहता है। वे दूसरों को निचले स्तर का मानते है। जिस वजह से उसके अनेक दुशमन हो जो हैं। और घमंड इंसान की मौत का कारण बन जाता है।

ज्यादा बोलने वाला
विदुर के अनुसार जो लोग ज्यादा बोलते हैं वे किसी के उपर अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाते हैं और लोग उन्हें हीन भावनाओं से देखते हैं। अधिक बोलना उम्र को कम करता है।

क्रोध यानी गुस्सा
अधिक गुस्सा या क्रोध करने वाल इंसान
विदुर के अनुसार क्रोध में इंसान कई तरह की गलतियां कर देता है जिसके बाद उसे खुद पछतावा होता है। यह वजह है क्रोध ही इंसान की उम्र को घटा देता है। क्रोध इंसान का दुशमन है। जो धीरे-धीरे इंसान की जान ले लेता है।

त्याग का अभाव

त्याग का अभाव होने के कारण ही रावणए दुर्योधन आदि का पतन हुआ। सांसारिक सुख मनुष्य की आयु को काटते हैं और उनका त्याग आयु में वृद्धि करता है। मनुष्य को इस बात का सदैव ध्यान रखना चाहिए कि हम इस संसार से कुछ लेने नहीं बल्कि दूसरों को सुख देने के लिए आए हैं। जिन लोगों के मन में त्याग की भावना नहीं होतीए उनकी मृत्यु शीघ्र ही हो जाती है।

लालच व स्वार्थ
जिस इंसान के अंदर लालच और स्वार्थ आ जाता है। उसकी उम्र अपने आप कम होने लगती है। शास्त्रों के अनुसार लोभी इंसान लंबे समय तक नहीं जीता है।

मित्र के साथ छल व द्रोह करना
विदुर के अनुसार मित्र धर्म निभाना बहुत ही पवित्र कार्य होता है। लेकिन जब मित्र ही विशवास घात करता है तब उस इंसान की उम्र भगवान छीन लेता है। और कम उम्र में ही एैसे लोगों की मौत हो सकती है।
यदि सही मायनों में विदुर की इन बातों पर गौर किया जाए तो ये बातें पूरी तरह से सत्य हैं। अधिकतर इन्हीें कारणों की वजह से इंसान की उम्र घटती है। यदि इंसान इन आदतों को छोड़ देता है। तो वह लंबी उम्र जी सकता है।

Loading...
डिसक्लेमर : वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।