मैग्नीशियम की कमी – हो सकती हैं ये समस्याएं

symptoms-manganese-deficiency-the-body-in-hindi

इंसान का शरीर कई प्रकार के खनिज तत्वों से बना हैं। यदि आपके शरीर में हर चीज की मात्रा एक उचित अवस्था में है तो आपका शरीर स्वस्थ कहलाता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन्स, प्रोटीन्स, कैल्शियम और मैग्नीशियम की जरूरत होती है। यदि हमारे शरीर में मैग्नीशियम की कमी हो जाती है तो हमे कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

शरीर में किसी चीज की कमी हो गई है उसके संकेत शरीर हमें खुद देने लगता है। जैसे चेहरे का रंग का फीका पड़ जाना, नाखूनों का रंग बदलना आदि। हम आपको बता रहंे है यदि शरीर में
मैग्रनीशिम की कमी हो जाए तो शरीर पर इसका क्या असर हो सकता है।

 मैग्नीशियम की कमी से हो सकती हैं ये समस्याएं

तेज का दर्द जोड़ों में होना
दोस्तों जब शरीर में गैग्नीशियम की कमी हो जाती है तब हमारी हड्डियां कमजोर होने लगती हैं जिसकी वजह से जोड़ों में भंयकर दर्द हो सकता है।

थकान लगना
दूसरा सबसे बड़ी समस्या आपको मैग्नीशियम की कमी की वजह से हो सकती है वह है आपको बहुत जल्दी थकान लगना।
आप छोटे छोटे काम करने पर भी अधिक और तेजी से थक सकते हैं।

चेहरे की समस्या
मैग्नीशियम जब शरीर में कम होता है तब चेहरे व शरीर पर त्वचा संबंधी रोग जैसे चकते पड़ना आदि की हो सकता है।

डायबिटीज की परेशानी
मैग्रीनीशियम की कमी से भी शरीर में ब्लड शुगर की समस्या हो सकती है। ऐसे में आपको डॉक्टर से जांच करवानी चाहिए।
मासिक धर्म में खून का अधिक बहना
महिलाओं में यदि मैग्नीशियम की कमी होने पर मासिक धर्म में परिवर्तन आने लगता है। जिसकी वजह से मासिक धर्म में खून का स्त्राव अधिक होता है।
घाव का बढ़ना
जब आपके शरीर में गैग्नीनिशयम की कमी होती है तब यदि शरीर पर किसी चोट से घाव बन गया हो तो वह आसानी से नहीं भरता है जिससे इंसान को बहुत परेशानी होती है।

नाखून
यदि नाखूनों में सफेद धब्बे अधिक हो गए हों तो समझें शरीर में मैग्नीशियम की कमी हो गई है।

यदि आपको इसमें से कोई भी समस्या लग रही हो तो समझे की आपके शरीर में गैग्नीशियम की कमी हो गई। है। एैसे में आप अपने को डॉक्टर से जरूर चेकअप करवाएं।

Loading...
डिसक्लेमर : वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।