उत्तर भारत में उठाएं छुट्टियों का मजा

himalya_2803.jpg

हर इंसान के दिल और दिमाग को खुश रखता है नई जगहों पर घूमना। अक्सर जब हम बात करते हैं घूमने की तो लोगों शॉपिंग मालए पार्क या बर्गर पिज्जा की दुकानों के बारे में ही बताते हैं। लेकिन यदि आप सच में घूमने की चाह रखते हैं तो उत्तर भारत में मौजूद इन जगहों पर जरूर जाएं। यहां आपको वास्तव में घूमने का मतलब पता चल जाएगा। क्योंकि ये जगहें एैसी हैं जहां जाकर आपको शरीरिक और मानसिक शांति का अनुभव होता है। और आपको घूमने का वास्तविक मतलब भी पता चलता है।आइये जानते हैं इन जगहों के बारे में।

दार्जिलिंग 

विश्व की तीसरी सबसे बड़ी चोटी और भारत की नंबर एक पहाड़ी चोटी कंचनजंघा यहीं पर है। दार्जिलिंग बहुत ही खूबसूरत और दिलखुश करने वाली जगह है। बर्फ से ढ़की हुई हिमालय की पहाड़ियां एक साथ आप देख सकते हैं। इसके अलावा चाय के बागानों और टाय ट्रेन में बैठकर दार्जिलिंग की सैर करना अपने आप में मनमोहक होता है। गर्मियों के दिनों में तो यहां जरूर जाएं।

 

मनाली

हिमाचल प्रदेश जो की दिल्ली से मात्र पांच सौ किलोमीटर की दूरी पर है यह एक खूबसूरत और सुंदर सी जगह है। मनाली में घूमने का अपना ही मजा है। मनाली में आप हरियाली का बेहद खूबसूरत नजारा देख सकते हैं। यहां आपको बहुत सारी चीजों को देखने का अवसर मिलता है। 

नौनीताल

उत्तराखांड में सबसे मशहूर जगह है नैनीताल। भारत के सबसे खूबसूरत और प्राकृति शहर में इस जगह को जाना जाता है। नैनीताल का अर्थ है नैनी यानि आंखें और ताल का मतलब है झील। पहाडियों में बर्फ से ढ़की हुई जगह बहुत ही सुंदर जगह है। बोटिंगए राफटिंग और ट्रेकिंग आदि का पूरा मजा उठा सकते हैं।

कर्नाटक के पर्यटन स्थल

ऋृषिकेश

हिमालय की तलहटी में  बसा हुआ सुंदर नगर है ऋृषिकेश। यहां आपको बेहद अच्छा अनुभव होगा। पहाड़ों पर बाइक चलानाए  पानी में नाव चलानाए और ट्रैकिंग के साथ आप यहां पर रॉक क्लाइमबिंग  और बंजी जंपिंग भी कर सकते हो। साथ ही साथ राजा जी नेशनल पार्क में कई जानवरों को आसानी से देख सकते हो। मन की शांति देने वाली और आध्यात्म की पावन नगरी है।

शिमला

अदभुद हिल स्टेशन है शिमला। इस जगह पर घूमने की कई सुंदर जगह मौजूद हैं।  शिमला की खूबसूरती आपको तन और मन दोनों से बेहद सकुन देगी। यहां पर आप अपने मोबइल से बेहतरीन सेल्फी ले सकते हैं। 

Loading...
डिसक्लेमर : वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।