पैरों को देखकर पता चलता है इन बीमारियों का

signs-diseases-revealed-feet-pair-in-hindi

बीमारियों का पता शरीर में मौजूद लक्षणों से बता लगता है। बीमार होने से पहले शरीर के अंगों का आकार व रूप बदलने लगता है। जिससे पता लगता है कि आप किसी बीमारी से परेशान हो सकते हो। हम बात कर रहे हैं पौरों की। पैरों से भी बीमारियों का पता लगाया जा सकता है। इसलिए पैरों में होने वाले हर प्रकार के बदलाव में ध्यान जरूर दें ताकि आने वाले समय में गंभीर रोगों से बचा जा सके। वैदिक वाटिका आपको बता रही है कैसे आप पैरों के लक्षणों को देखकर बीमारी का पता लगा सकते हैं।

पैरों के लक्षण जो बताते हैं शरीर की बीमारियों को

पैरों पर घाव का ठीक ना होना
पैर पर चोट लगने या फिर किसी अन्य वजह से घाव हो गया हो और वह ठीक होने की बजाय पक रहा हो तो यह भी बीमारी का संकेत है। यानि कि डायबिटीज होने का खतरा। जब शरीर में शुगल लेवल बढ़ जाता है तब पैरों पर बने घाव आसानी से ठीक नहीं हो पाते हैं।

पपड़ीदार और सूखे पैर होना
यदि पैर नीचे से पपड़ीदार और सूखे हो रहें हो और किसी उपचार से ठीक ना हो रहे हों तो यह थाइराइड की समस्या का मुख्य कारण हो सकता है। इसलिए इसे हल्के में ना लें। डाॅक्टर से सलाह लें।

पैर के अंगूठे पर लाल रंग की रेखाएं
पैर के अंगूठे के नाखून में  लाल रंग की रेखाएं दिखना बहुत ही खतरनाक  होता है। एैसे लक्षण मुख्य तौर पर हार्ट की बीमारी, कैंसरए डायबिटीज और  एचआईवी के रोगियों में पाए जाते हैं। दिल पर संक्रमण होना भी इसी लक्षण से पता चलता है। जब आपको ऐसा लगे कि पैर के अंगूठे के नाखून पर लाल रंग की धारियां दिख रहीं है तो बिना देर किए अपने को डाॅक्टर को दिखाएं।

पैर के अंगूठे में दर्द बने रहना
कई बार खाने की गलत आदतों की वजह से शरीर में कैमिकल्स की मात्रा अधिक हो जाती है। जिस वजह से पैर के अंगूठे में दर्द होने लगता है। जो लोग मछली शराब और लाल मीट का सेवन अधिक करते हैं उनके शरीर में मौजूद प्युरीन की मात्रा ज्यादा हो जाती है जो पैर कि अंगूठे के दर्द से पता चल पाता है। इसके लिए आप अपने को जरूर किसी चिकित्सक से विचार करें। वह आपको इसका अपचार बता देगा।

पैर कीअंगुलियों का आगे से मोटा और चेोडा होना यानि क्लबिंग

मेडिकल भाषा में क्लबिंग शब्द का इस्तेमाल किया जाता है जिसका अर्थ है पैरों की उंगलियों को पीछे से और आगे से चेोडा और मोटा होना। इस तरह के लक्षण का दिखने का अर्थ है फेफड़ों की बीमारी,  फेफड़े का कैंसर, आंत की बीमारी, हार्ट की बीमारी हो सकती है। पैर के एैसे लक्षण दिखाई देने पर आप तुरंत डाक्टर के पास जाकर अपना चेकअप कराएं। ताकि समय पर इलाज हो सके।
इंसान के शरीर में परिर्वतनों का होना एक गंभीर बीमारी की ओर इशारा करता है। इसलिए आपको अपने शरीर को समय समय पर देखते रहना चाहिए। ताकि किसी भी तरह का लक्षण दिखे उसे तुरंत चिकित्सक को दिखा लें। एैसा करने से आप गंभीर बीमारियों से आसानी से बच सकते हो।

Loading...
डिसक्लेमर : वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।